About Us

762[1]

महाविद्यालय का परिचय

यह महाविद्यालय भरथना से 11 किमी. पूरब व अछल्दा से 09 किमी. पश्चिम में भरथना पाली मार्ग पर नगला छोटे ( जारपुरा ) में स्थिति है | यह संस्था श्री रामनरेश सिंह यादव ने वर्ष 2007 में अपने पूज्यनीय ताऊ जी एवं समाज सेवी स्व० चौ० जसवन्त सिंह यादव की स्मृति में स्थापित की | सीमित साधनों के होते हुए प्रबन्ध समिति द्वारा प्रतिकूल परिस्थितियों में क्षेत्र की आवश्यकता एवं माँग को देखते हुये माँ शारदे की असीम अनुकम्पा से शिक्षा सत्र 2007-08 में शासन एवं छत्रपति शाहू जी महाराज विश्व विद्यालय कानपुर से सम्बद्धता प्राप्त कर स्नातक स्तर पर कला संकाय हिन्दी साहित्य, अंग्रेजी साहित्य, संस्कृत, समाजशास्त्र, राजनीतिशास्त्र एवं शिक्षाशास्त्र, अर्थशास्त्र की कक्षायें प्रारम्भ कर तथा महाविद्यालय में प्रथम सत्र की परीक्षायें सम्पन्न कराने में सफलता प्राप्त की |
वर्त्तमान में ( बी. ए. प्रथम, द्वितीय, तृतीय वर्ष ) के गति तीन सत्रों के सफलतम समापन के बाद बी. ए. के अतिरिक्त निम्न पाठ्यक्रम हेतु शासन एवं छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय कानपुर से सम्बद्धता प्राप्त कर प्रवेश प्रारम्भ हैं |
स्नातक स्तर पर विज्ञान संकाय - भौतिक विज्ञान, रसायनविज्ञान, जन्तुविज्ञान, वनस्पतिविज्ञान एवं गणित |
'o' Level ( एक वर्षीय डिप्लोमा पाठ्यक्रम )

उद्देश्य

हमारा उद्देश्य भविष्य में ग्रामीण क्षेत्र के बालक/बालिकाओं हेतु उच्च शिक्षा की व्यवस्था करना ताकि निर्धन साधन विहीन प्रतिभा सम्पन्न युवा पीढ़ी को उच्च स्तरीय शिक्षा सुलभ हो सके जिसमें गुणवत्त की प्रधानता ही प्रमुख लक्ष्य है | महाविद्यालय प्रबन्ध समिति/शिक्षक मण्डल, अपने विद्यार्थियों में अनुशासन, कर्तव्य-बोध, सच्चरित्रता एवं राष्ट्र निर्माण की भावना ओत-प्रोत करने के लिए कृत संकल्प है |